Interview

[Interview][grids]

Personality

[Personality Development][twocolumns]

Amazing Facts

[Amazing Facts][grids]

Motivational

[Motivational Story][twocolumns]

एक भारतीय उद्योगपतीने खरीदी ईस्ट र्इंडीया कंपनी

ईस्ट इंडिया कंपनी का नाम आप सभी ने सुना होगा। वही कंपनी, जिसने हम पर 100 साल तक राज किया। लेकिन क्या आप जानते हैं कि अब उसे एक भारतीय खरीद चुका है। जी हां, यह बिल्कुल सच है।
मुंबई के उद्योगपति संजीव मेहता ने उस ईस्ट इंडिया कंपनी को खरीद लिया है, जिसने कभी भारत फतह कर इंग्लैंड की महारानी को दे दिया था। हालांकि संजीव मेहता को इसके लिए भारी रकम देनी पड़ी पर उनका मानना है कि यह डील बिजनेस डील से ज्यादा इमोशनल डील है। संजीव मेहता ने ईस्ट इंडिया कंपनी के मेजर शेयर खरीद लिए हैं और अब वे इस कंपनी के मालिक हैं। संजीव ने ईस्ट इंडिया कंपनी को 15 मिलियन डॉलर में खरीदा है।
संजीव ने ईस्ट इंडिया कंपनी को इसके 40 स्टेक होल्डर्स से खरीदा। 2010 में यह डील फाइनल हुई थी। इस कंपनी को खरीदने के लिए उन्होंने दिन-रात एक कर दिया। सारे बिजनेस से छुट्टी ले ली और इसे अपनी जिंदगी का एकमात्र उद्देश्य बना लिया।
मुंबई के एक डायमंड मरचेंट फैमिली में जन्मे संजीव बताते हैं कि जब उन्होंने ईस्ट इंडिया कंपनी को खरीदा, तो उन्हें लगा कि जिसने कभी हम पर राज किया था, आज भारत उस कंपनी का मालिक है। मेहता अब ईस्ट इंडिया कंपनी को नए बिजनेस में लाएंगे। उनकी योजना लग्जरी गिफ्ट सेट्स और अन्य सामानों को ई-कॉमर्स के माध्यम से बेचने की है। उन्होंने इस ब्रांड को भारतीय स्वतंत्रता दिवस पर लांच किया है।
ईस्ट इंडिया कंपनी की शुरुआत 1600 में हुई थी। इस कंपनी ने 17वीं व 18वीं शताब्दी में पूरी दुनिया के बिजनेस पर राज किया था। ईस्ट इंडिया कंपनी 1757 में भारत पहुंची थी और धीरे-धीरे अपनी बांटों और राज करो की नीति के बल पर इसने पूरे भारत पर कब्जा कर लिया था।
संजीव ने कहा कि जब उन्होंने ईस्ट इंडिया कंपनी को खरीदा, तो उन्हें लगा कि जिसने कभी हम पर राज किया था अब हम उस पर राज करेंगे। मेहता अब ईस्ट इंडिया कंपनी को नए बिजनेस में लाएंगे। उनकी योजना लग्जरी गिफ्ट सेट्स और अन्य सामानों को ई-कॉमर्स के माध्यम से बेचने की है। उन्होंने इस ब्रांड को भारतीय स्वतंत्रता दिवस, 15 अगस्त के दिन लॉन्च किया है।

East India Co is back, with Indian Owner
Over 400 years after it was first established, the East India Company has relaunched in a new avatar a luxury goods brand. 
At its peak, the company was responsible for 50% of global trade, employed a third of the British workforce and ruled much of India. Now, the brand will sell luxury gift sets, teas, coffees, jams and other goods inspired by the East India Company's history through its new e-commerce website. The site, and the company's flagship store in London, was launched on Independence Day. 
Mumbai-born owner Sanjiv Mehta, 48, says he is just a trustee of a brand that he is taking through the next stage of its history. ''The winds are blowing eastwards and I see the East India Company as a brand tomorrow's India can build upon,'' he says. 

2 comments: